|

पूर्वोत्तर भारत में भारी से अत्यधिक भारी बारिश हुई

Advertisements


नई दिल्ली, 15 मई (आईएएनएस)। उत्तर-पश्चिम भारत और भारत-गंगा के मैदानी इलाकों में भीषण गर्मी और भीषण गर्मी के बीच शनिवार को पूर्वोत्तर भारत के बड़े हिस्से में कई स्टेशनों, खासकर मेघालय के कई स्टेशनों पर भारी से बेहद भारी बारिश हुई। 24 घंटे में 150 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 18 मई तक इसी तरह की भारी से अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी दी है।

एक पूर्व-पश्चिम ट्रफ बिहार से मध्य असम और मेघालय से उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम होते हुए समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर है। 14-18 मई के दौरान निचले स्तर की दक्षिण/दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के कारण पूर्वोत्तर भारत में बंगाल की खाड़ी से नमी का प्रवेश जारी रहने की संभावना है।

आईएमडी के गुवाहाटी क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक संजय ओनील शॉ ने कहा, उपरोक्त प्रणाली के प्रभाव में, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर गरज/बिजली और भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ व्यापक वर्षा होने की संभावना है और गरज/बिजली और भारी से भारी बारिश की संभावना है। मेघालय में अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा के साथ बहुत भारी वर्षा की संभावना है।

19-21 मई के लिए अपने पूवार्नुमान में आईएमडी ने कहा है कि पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में अलग-अलग भारी वर्षा के साथ काफी व्यापक हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने की संभावना है।

–आईएएनएस

एसजीके


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.