|

बिहार में अब शिक्षक शराबियों और शराब माफियाओं को ढूंढेंगे

Advertisements


पटना, 28 जनवरी ( LHK MEDIA)। बिहार सरकार शराबबंदी कानून को सफल बनाने के लिए हर मुमकिन कोशिश करने में जुटी है। सरकार अब सरकारी शिक्षकों को भी इस काम में लगाने जा रही है।

बिहार में अब शिक्षक शराबियों और शराब की आपूर्ति करने वालों की पहचान कर इसकी जानकारी मद्य निषेध विभाग को देंगे। इसके लिए शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को बाकायदा इसका आदेश जारी किया है।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने राज्य के सभी क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक, जिला शिक्षा पदाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को एक पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि ऐसी सूचनायें प्राप्त हो रही हैं कि अभी भी कतिपय लोगों द्वारा चोरी-छुपे शराब का सेवन किया जा रहा है। इसे रोकना अति आवश्यक है।

उन्होंने पत्र में आगे लिखा, इस संबंध में निर्देश दिया जाता है कि प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में शिक्षा समिति की बैठक आहूत कर नशामुक्ति के संदर्भ में आवश्यक जानकारी दी जाये।

पत्र में यह भी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि विद्यालय अवधि के बाद चोरी छिपे नशापान करने वाले विद्यालय परिसर का कतई उपयोग न करें।

उल्लेखनीय है कि राज्य में किसी प्रकार के शराब सेवन और बिक्री पर प्रतिबंध है। लेकिन, हाल ही में राज्य के कई जिलों में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत हुई है।

— LHK MEDIA

एमएनपी/एएनएम


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.