|

बिहार बंद में दिखा अनोखा विरोध, घोड़े पर सवार होकर निकला राजद कार्यकर्ता, छात्रों ने सड़कों पर बेची चाय

Advertisements


पटना, 28 जनवरी ( LHK MEDIA)। आरआरबी एनटीपीसी की परीक्षा के रिजल्ट में धांधली तथा ग्रुप डी की परीक्षा में एक की जगह दो परीक्षाएं लेने के खिलाफ शुक्रवार को छात्र संगठनों के बुलाए गए बिहार बंद को लेकर बंद समर्थक सड़क पर उतरे और सरकार का जमकर विरोध किया। इस दौरान बंद समर्थकों ने विरोध के कई अनोखे तरीके भी अपनाए।

कटिहार में छात्रों ने राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर केतली में चाय लेकर बैठ गए तो हाजीपुर में राजद का एक कार्यकर्ता घोड़े पर सवार होकर बंद कराने निकला।

रेलवे भर्ती बोर्ड के एनटीपीसी परीक्षा परिणाम में गड़बड़ी को लेकर बुलाए गए बिहार बंद को समर्थन कर रहे राजनीतिक कार्यकर्ता भी सड़कों पर उतरे और जमकर प्रदर्शन किया। वैशाली जिले में अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शन किया गया तथा सड़कों पर टायर जलाकर आवागमन बाधित किया गया।

इसी दौरान हाजीपुर- मुजफ्फरपुर मार्ग पर भगवानपुर के पास जाम करने राजद का एक कार्यकर्ता घोड़े पर सवार होकर पहुंच गया। उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रेल मंत्री का पुतला फूंका और इस्तीफा देने की मांग की।

इधर, कटिहार में भी बंद समर्थक सुबह से ही सड़कों पर नजर आने लगे। यहां युवा राजद के कार्यकर्ताओं ने एनएच 31 पर समेली के पास सड़क जाम की और वहीं केतली में चाय लेकर आए और बेचने लगे। इस दौरान उन्होंने उन वाहन चालकों को भी चाय पिलाई जिनके वाहन जाम में फंस गए।

इस बीच, जहानाबाद में भी बंद समर्थक सड़क पर उतरे। बंद समर्थकों ने आंबेडकर चौक पर जेसीबी लगाकर सड़क पर आवागमन रोक दिया। इस कारण यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

बंद समर्थक एनटीपीसी परीक्षाफल में धांधली, आंदोलनरत छात्रों की गिरफ्तारी और उनको झूठे मुकदमे में फंसाने का आरोप लगाते हुए विरोध कर रहे हैं।

छात्र संगठन ऑल इंडिया स्टूडेंटस एसोसिएशन (आइसा) व नौजवान संगठन इनौस ने आरआरबी एनटीपीसी की परीक्षा के रिजल्ट में धांधली तथा ग्रुप डी की परीक्षा में एक की जगह दो परीक्षाएं लेने के खिलाफ शुक्रवार को बुलाए गए बिहार बंद को लेकर बंद समर्थक सड़क पर उतरे। इस बंद को कई राजनीतिक दलों का समर्थन मिला है।

— LHK MEDIA

एमएनपी/एएनएम


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.