एशवेल प्रिंस ने बुमराह के साथ बहस के लिए जानसेन की प्रशंसा की


केप टाउन, 15 जनवरी ( LHK MEDIA)। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व सलामी बल्लेबाज एशवेल प्रिंस ने टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के खिलाफ लड़ाई में पीछे नहीं हटने के लिए युवा तेज गेंदबाज मार्को जानसेन की प्रशंसा की।

भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मिली हार का बड़ा कारण उसके युवा गेंदबाज मार्को जानसेन हैं। टीम ने भारत के खिलाफ अहम सीरीज के लिए इस युवा खिलाड़ी को डेब्यू का मौका दिया। मार्को ने अपनी टीम को बिलकुल निराश नहीं किया और पूरी सीरीज में टीम इंडिया के बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रखा। इस बीच जसप्रीत बुमराह के साथ उनकी तकरार भी चर्चा में रही। दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी एशवेल प्रिंस ने यानसेन की हिम्मत की तारीफ करते हुए कहा कि खिलाड़ी को इसी तरह बेखौफ होना चाहिए।

जसप्रीत बुमराह और यानसेन आईपीएल एक साथ मुंबई इंडियंस की ओर से खेलते हैं। बुमराह मुंबई के सबसे बड़े स्टार हैं वहीं दूसरी ओर यानसेन ने पिछले ही सीजन में अपना डेब्यू किया और केवल दो ही मैच खेले हैं। हालांकि टेस्ट सीरीज में दोनों के बीच काफी तू-तू मैं-मैं होती दिखाई दी। दिग्गज खिलाड़ी एशवेल प्रिंस का मानना है कि अपने आईपीएल करार की चिंता किए बगैर यानसेन बुमराह से भिड़ गए जो दिखाता है कि उनके लिए उनका देश सबसे अहम है।

साउथ अफ्रीका के पहले कप्तान एशवेल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि खिलाड़ियों को आईपीएल में मिलने वाले पैसों से ज्यादा अपने देश को तरजीह देनी चाहिए। यानसेन की तारीफ करते हुए उन्होंने लिखा, साउथ अफ्रीका और भारत की सीरीज के दौरान एक बात जो मुझे सबसे ज्यादा पसंद आई वह यह थी कि यानसेन पूरी सीरीज में कही भी बुमराह से दबे नहीं। उन्होंने यह नहीं सोचा कि इसका उनके आईपीएल करार पर असर हो सकता है या वहां के लोगों से उनके रिश्ते खराब हो सकते हैं। उन्होंने पहले अपने देश को तरजीह दी और ऐसा ही होना चाहिए।

बता दें, जोहानसबर्ग में बुमराह और यानसेन के बीच मैदान पर बहस हुई थी। उस वक्त बीच बचाव कर मामले को शांत कराया गया। इसके बाद केपटाउन टेस्ट में बुमराह ने यानसेन को बोल्ड किया था। इसके बाद वह युवा खिलाड़ी को घूरते हुए दिखाई दिए थे।

मेजबान टीम ने शुक्रवार को केपटाउन में अंतिम टेस्ट जीतने के बाद भारत पर 2-1 से सीरीज जीत दर्ज की थी।

— LHK MEDIA

एचएमए/एसजीके


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *