|

प्रधानमंत्री 27 दिसंबर को मंडी में जनसभा को करेंगे संबोधित

Advertisements


शिमला, 25 दिसम्बर ( LHK MEDIA)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 दिसंबर (सोमवार) को हिमाचल प्रदेश के मंडी शहर में राज्य की भाजपा सरकार के चार साल के कार्यकाल के पूरा होने के मौके पर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। एक आधिकारिक बयान में शनिवार को यह जानकारी दी गई।

इस मौके पर प्रधानमंत्री राज्य में 11,281 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।

इन परियोजनाओं में शिमला में पब्बर नदी पर 2,081.60 करोड़ रुपये के परिव्यय से निर्मित 111 मेगावाट की सावरा-कुड्डू जल विद्युत परियोजना (एचईपी) का समर्पण शामिल है। इस परियोजना से सालाना 38.6 करोड़ यूनिट बिजली पैदा होगी, जिससे राज्य को सालाना 120 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त होगा।

मोदी सिरमौर जिले में गिरि नदी पर 6,700 करोड़ रुपये की राष्ट्रीय परियोजना रेणुकाजी बांध परियोजना की आधारशिला रखेंगे। यह परियोजना 40 मेगावाट की स्थापित क्षमता वाले बिजलीघर में राज्य के लिए 20 करोड़ यूनिट ऊर्जा उत्पन्न करेगी।

बांध का सजीव भंडारण 49.8 करोड़ क्यूबिक मीटर होगा, जो दिल्ली की पेयजल आवश्यकता का लगभग 40 प्रतिशत पूरा करेगा।

मोदी 66 मेगावाट की धौलासिद्ध जलविद्युत परियोजना की आधारशिला रखेंगे, जिसका निर्माण 688 करोड़ रुपये की लागत से किया जाएगा। यह परियोजना हमीरपुर और कांगड़ा जिलों में ब्यास नदी पर स्थित है।

वह 1,811 करोड़ रुपये की लागत से पूरी होने वाली 210 मेगावाट की लुहरी हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट स्टेज- 1 की आधारशिला भी रखेंगे, जो भारत और हिमाचल प्रदेश की सरकारों के बीच एक संयुक्त उद्यम है। यह परियोजना शिमला और कुल्लू जिलों में सतलुज नदी पर स्थित है।

बयान में कहा गया है कि इन परियोजनाओं से उत्पन्न बिजली ग्रिड को स्थिरता प्रदान करने और बिजली आपूर्ति की स्थिति में सुधार करने के अलावा ग्रिड में मूल्यवान अक्षय ऊर्जा जोड़ने में मदद करेगी।

धौलासिद्ध पनबिजली परियोजना से 2.4 लाख टन और लुहरी परियोजना से पर्यावरण से सालाना 6.1 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड की कमी होगी।

— LHK MEDIA

एचके/एएनएम


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.