रहेंगे हृदय रोग से दूर खाने में छह चीजों को शामिल करने से, जाने आप अभी

Advertisements

लाइव हिंदी खबर (हेल्थ कार्नर ) :-  भारत समेत दुनियाभर में हृदय रोग सबसे बड़ी चिंता बनते जा रहे हैं। दुनिया में सर्वाधिक मौतें भी दिल की बीमारियों से होती हैं। बदलती जीवनशैली व खराब खानपान इसके मरीज बढऩे की प्रमुख वजह हैं। नियमित योग, व्यायाम व जीवनशैली संबंधी बदलाव के साथ खानपान संबंधी कुछ आदतों में सुधार करके इसके खतरे को काफी हद तक कम किया जा सकता है। जानते हैं उन छह तरह की चीजों के बारे में जिन्हें अपनी डाइट में शामिल कर हृदय रोगों से बच सकते हैं-

15 steps for healthy heart - जीवनशैली में शामिल करेंगी ये 15 कदम, तो आपका दिल बोल उठेगा, 'शुक्रिया'

 
हार्ट फ्रेंडली सोयाबीन
50 ग्राम सोयाबीन सभी को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। यह ओमेगा-3 फैट्स और फाइबर का अच्छा स्त्रोत होने के साथ शरीर में कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रखता है। इसलिए इसे हार्ट फ्रेंडली भी कहा जाता है।
मेथी दाने के फायदे
करीब 2 चम्मच मेथी दानानियमित रूप से लेने पर कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। इसे पानी के साथ या सब्जी में प्रयोग किया जा सकता है।
Tips to keep your heart healthy during winter - सर्दियों में दिल की धड़कन बढ़ना या कम होना दोनों ही खतरनाक, इन बातों से रखें अपने दिल का ख्याल
ईसबगोल की भूसी
रेशेदार ईसबगोल की दिनभर में 50 ग्राम मात्रा लेने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। यह पेट में तैलीय तत्त्वों को साफ करने का काम करती है।
कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करे चना
इसमें आयरन व सेलेनियम की प्रचुर मात्रा होती है। साथ ही यह फोलिक एसिड का भी बेहतर स्त्रोत है। यह शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को हटाने का काम भी करता है।
आंवला करेगा खून साफ 
विटामिन-सी से भरपूर दो आंवले दिन में खाने से रक्त की सफाई होती है। यह शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह बेहतर बनाए रखता है।
थक्के हटाएगा लहसुन
लहसुन की 4 कलियां रोजाना खाने से रक्त नलिकाओं में थक्के की समस्या दूर होती है।  थक्के के कारण हृदय सही पम्पिंग नहीं कर पाता जिससे हार्टअटैक का खतरा बढ़ता है। यह खराब कोलेस्ट्रॉल भी हटाता है।
विशेषज्ञ की राय
इस बारे में कार्डियक साइंस व हृदय रोग विशेषज्ञ इटरनल हार्ट केेयर सेंटर, जयपुर के चेयरमैन डॉ. अजीत बाना का कहना है कि इन छह चीजों को  दैनिक आहार का हिस्सा बना लें तो इन रोगों के जोखिम को काफी कम कर सकते हैं। लंदन यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों ने भी माना है कि इनसे हृदय रोगों की आशंका 88 प्रतिशत तक कम होती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.