शी चिनफिंग ने 2021 इंपीरियल स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फोरम के उद्घाटन समारोह में वीडियो भाषण दिया


बीजिंग, 5 दिसम्बर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 5 दिसंबर को पेइचिंग में 2021 इंपीरियल स्प्रिंग्स इंटरनेशनल फोरम के उद्घाटन समारोह में वीडियो भाषण दिया।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि आज की दुनिया में मानव जाति दुर्लभ कई संकटों का सामना कर रही है। अंतहीन वैश्विक मुद्दों और चुनौतियों के सामने हमें खुलेपन, सहिष्णुता, परामर्श और सहयोग, बहुपक्षवाद को बनाए रखने पर कायम रहना चाहिए और मानव जाति के लिए साझा भाग्य समुदाय के निर्माण को सक्रिय रूप से बढ़ावा देना चाहिए।

शी ने कहा कि हमें सच्चे बहुपक्षवाद का अभ्यास करना चाहिए। बहुपक्षवाद का सार यह है कि अंतरराष्ट्रीय मामलों को सभी के परामर्श के माध्यम से संभाला जाता है, और दुनिया का भविष्य और भाग्य सभी देशों के हाथों में हैं। हमें संयुक्त राष्ट्र पर केंद्रित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था, अंतरराष्ट्रीय कानून पर आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था और संयुक्त राष्ट्र चार्टर के सिद्धांतों पर आधारित अंतरराष्ट्रीय संबंधों के बुनियादी मानदंडों को बनाए रखना चाहिए और शांति, विकास, निष्पक्षता, न्याय, लोकतंत्र, और आजादी के सभी मानव जाति के सामान्य मूल्य का विकास करना चाहिए।

शी ने आगे कहा कि हमें समय के साथ विकसित होना चाहिए और वैश्विक शासन प्रणाली का लगातार सुधार करना चाहिए। विश्व संरचना के परिवर्तन पर ध्यान केंद्रित करते हुए व्यापक परामर्श और सर्वसम्मति जुटाने के आधार पर वैश्विक शासन प्रणाली में सुधार करना चाहिए।

शी ने कहा कि हमें कार्रवाइयों पर ध्यान देना चाहिए और वैश्विक सहयोग एजेंडा को लागू करना चाहिए। हमने वैश्विक विकास पहल और साझा भाग्य समुदाय का निर्माण करने की पहल प्रस्तुत की।

उन्होंने कहा, आशा है कि सभी पक्ष सक्रिय रूप से भाग लेंगे, विकास को प्राथमिकता देने पर कायम रहेंगे, गरीबी उन्मूलन को बढ़ाएंगे, महामारी के मुकाबले और टीके, विकास वित्तपोषण, हरित परिवर्तन, और आपसी संपर्क आदि क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देंगे, ताकि वैश्विक विकास को संतुलन, समन्वय और समावेशिता के एक नए चरण में बढ़ाया जा सके।

शी ने जोर देते हुए कहा कि चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सौ साल के संघर्ष का एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक अनुभव है दुनिया को ध्यान में रखते हुए हमेशा मानव जाति के भविष्य और भाग्य पर ध्यान दें। चीन का बहुपक्षवाद का समर्थन करने का ²ढ़ संकल्प नहीं बदलेगा। चीन बहुपक्षवाद के मूल मूल्यों और बुनियादी सिद्धांतों को ²ढ़ता से बनाए रखेगा, पारस्परिक लाभ और उभय जीत पर कायम रहेगा, मतभेदों को दरकिनार करते हुए समानताओं की खोज करता रहेगा, निष्पक्षता और न्याय, सहयोग व विकास को बनाए रखेगा, और मानव सभ्यता की प्रगति के लिए ज्ञान और शक्ति का योगदान करेगा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

आरजेएस

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.