ममता की टीएमसी और मायावती की बसपा बीजेपी की बी टीम: भूपेश बघेल


नई दिल्ली, 5 दिसम्बर (आईएएनएस)। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मायावती को बीजेपी की बी टीम करार दिया है।
उत्तर प्रदेश में पार्टी की ओर से पर्यवेक्षक की भूमिका निभा रहे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आईएएनएस से खास बातचीत में कहा कि उत्तर प्रदेश में केवल कांग्रेस ही है, जो बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ रही है। बसपा और इन दिनों गोवा समेत देशभर में तृणमूल बीजेपी की टीम की भूमिका निभा रही है।

भूपेश बघेल ने ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें अपने इरादे साफ करने होंगे कि वह मोदी सरकार के खिलाफ लड़ रही है, या विपक्ष के साथ है। उनकी बातचीत से लगता है कि वह बीजेपी को नहीं बल्कि विपक्ष से लड़ रही हैं। कांग्रेस के बिना राष्ट्रीय स्तर पर कोई विपक्षी गठबंधन संभव नहीं है। बीजेपी को टक्कर देने के लिए कांग्रेस ही सबसे बड़ी पार्टी है।

गोवा में टीएमसी चुनाव लड़ रही है, जहां उनको पता है कि राज्य में कांग्रेस मजबूत स्थिति में है। ऐसे में वह बीजेपी को फायदा पहुंचाने के लिए वहां से चुनाव लड़ रहे हैं जबकि पूरे साल की टीएमसी राज्य में नदारद रहीं।

बघेल ने कहा ममता बनर्जी बोलती हैं कोई यूपीए नहीं है, जबकि वे तो 2012 से ही यूपीए का हिस्सा नहीं हैं तो वह इस पर बयानबाजी क्यों कर रही हैं। वो सत्ताधारी दल से लड़ रही हैं या विपक्षी दलों के नेताओं से लड़ना चाहती हैं। ममता बनर्जी को इरादे स्पष्ट करने होंगे।

उन्होंने उत्तर प्रदेश की बात करते हुए उन्होंने कहा कि लोग डर के साये में जी रहे हैं क्योंकि वहां तानाशाही पार्टी सत्ता में है जहां असहमति की आवाज दबा दी जाती है। बघेल ने दावा किया कि भाजपा ने कोई भी चुनावी वादा पूरा नहीं किया है, इसके बजाय वह मजहबी टिप्पणियों के माध्यम से लोगों का ध्यान बंटाने और आपस में बांटने की ही कोशिश की है।

उन्होंने कहा कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जो उत्तर प्रदेश में भाजपा शासन के खिलाफ लड़ रही है। ऐसा लग रहा है कि दो अन्य विपक्षी दल कहीं नहीं है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश ने कहा बसपा तो चुनाव से पहले या बाद में बीजेपी को समर्थन करने ही जा रही है इसलिए उनको इस बात का ऐलान पहले ही कर देना चाहिए।

–आईएएनएस

पीटीके/आरजेएस

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.