हिमाचल को पर्यटन के बुनियादी ढांचे के लिए मिला 2095 करोड़ रुपये का एडीबी ऋण


शिमला, 1 दिसम्बर (आईएएनएस)। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बुधवार को कहा कि राज्य ने पर्यटन के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए एडीबी इंफ्रास्ट्रक्च र डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के लिए 2,095 करोड़ रुपये की सैद्धांतिक मंजूरी हासिल करने में सफलता हासिल की है।

उन्होंने कहा कि इसमें से 90 प्रतिशत ऋण राशि ऐसी होगी, जो भारत सरकार द्वारा समर्थित होगी, जबकि 10 प्रतिशत राज्य का हिस्सा होगा, क्योंकि हिमाचल एक विशेष श्रेणी (स्पेशल कैटेगरी) का राज्य है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना का उद्देश्य विरासत के रखरखाव और संरक्षण को सुनिश्चित करने के अलावा नए स्थलों के निर्माण, मौजूदा स्थलों में सुधार के माध्यम से पर्यटन को एक नया प्रोत्साहन देना है।

उन्होंने कहा कि इस परियोजना में भीड़-भाड़ वाले पर्यटन स्थलों पर बोझ कम करने के लिए कम आकर्षण वाले स्थानों का विकास सुनिश्चित करके पर्यावरण पर्यटन (ईको-टूरिज्म) के विकास की भी परिकल्पना की गई है।

ठाकुर ने कहा कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ इस मामले को उठाया था और पर्यटन मंत्रालय, नीति आयोग और वित्त मंत्रालय के समक्ष भी प्रस्तुतियां (प्रजेंटेशन) दी गई थीं।

उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग की स्क्रीनिंग कमेटी ने एडीबी से फंडिंग के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना को दो चरणों में क्रियान्वित किया जाएगा। पहली किश्त 900 करोड़ रुपये से अधिक होगी, जबकि दूसरी किश्त 1,100 करोड़ रुपये से अधिक होगी।

ठाकुर ने कहा कि इस परियोजना के क्रियान्वयन से पर्यटकों को लुभाने के लिए विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा तैयार कर पर्यटन गतिविधियों को नया बढ़ावा मिलेगा।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.