कांग्रेस की महंगाई हटाओ रैली 12 दिसम्बर को अब जयपुर में


नई दिल्ली, 1 दिसम्बर (आईएएनएस)। कांग्रेस आगामी 12 दिसम्बर को महंगाई हटाओ रैली राजस्थान के जयपुर में करेगी।

इस सम्बंध में कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने बुधवार को बयान जारी कर कहा, केंद्र की भाजपा सरकार तानाशाही की सभी हदें पार कर गई है। यह देश की पहली ऐसी सरकार है जो न तो सांसदों की बात सुनना चाहती, न ही संसद की।

वेणुगोपाल ने कहा, जब-जब कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में समूचा विपक्ष कमरतोड़ महंगाई, बेतहाशा बेरोजगारी, डूबती अर्थव्यवस्था, किसान-मजदूरों की अथाह पीड़ा व दलितों-आदिवासियों-पिछड़ों-अल्पसंख्यकों के अधिकारों के महत्वपूर्ण मुद्दे उठाता है, उन पर बहस करना चाहता है, तो केंद्र सरकार एक सोची समझी नीति के तहत संसद को खुद ही नहीं चलने देती। देश के 75 साल के इतिहास में ये पहली बार हो रहा है। आज कमरतोड़ महंगाई देश के हर व्यक्ति के लिए एक गंभीर संकट है।

उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी ने निर्णय लिया था कि 12 दिसंबर, 2021 को दिल्ली में एक व्यापक महंगाई हटाओ रैली कर जनता के मुद्दे उठाए जाएं। कांग्रेस पार्टी ने इस रैली के आयोजन के लिए पुलिस से अनुमति मांगी थी। काफी मशक्कत के बाद सरकार ने द्वारका में रैली की अनुमति दी। अब जब रैली की तैयारियां शुरू की तो एक सुनियोजित निति के तहत मोदी सरकार ने दिल्ली के उपराज्यपाल पर दबाव बनाकर द्वारका, दिल्ली में होने वाली महंगाई हटाओ रैली की अनुमति को खारिज करवा दिया।

गौरतलब है कि इस रैली को लेकर कांग्रेस पार्टी ने पांच राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष और प्रभारी महासचिवों की बैठक बुलाई थी, जिसमें उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब के नेता शामिल हुए थे। कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में हुई बैठक में संसद सत्र के दौरान इस रैली का आयोजन दिल्ली में करने का निर्णय लिया गया था।

–आईएएनएस

पीटीके/एएनएम

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.