तथागत रॉय के विस्फोटक ट्वीट से भाजपा को फिर लगा झटका


कोलकाता, 30 नवंबर (आईएएनएस)। भाजपा के वरिष्ठ नेता तथागत रॉय के एक विस्फोटक ट्वीट ने एक बार फिर भाजपा को हिलाकर रख दिया है। रॉय ने अपने ट्वीट में एक भाजपा समर्थक के हवाले से कहा कि पार्टी में कई ऐसे लोग हैं, जो भेष बदलकर टीएमसी के लिए काम कर रहे हैं और ये सभी प्रशांत किशोर (पीके) द्वारा नियोजित हैं।

त्रिपुरा और मेघालय के पूर्व राज्यपाल ने बांग्ला में लिखे एक ट्वीट में कहा कि उन्हें भाजपा के एक समर्पित समर्थक से जानकारी मिली कि उनके पड़ोसी गांव के एक शिक्षित युवक को टीम-पीके द्वारा बुलाया गया था और कहा गया था कि भाजपा के लिए नहीं, बल्कि तृणमूल कांग्रेस के लिए काम करें और इसके लिए उन्हें 13,000 रुपये प्रति माह मिलेंगे।

रॉय ने ट्वीट में यह भी कहा, मेरा मानना है कि भाजपा में कई जमीनी स्तर के कार्यकर्ता हैं जो पीके द्वारा नियोजित हैं। अभी तक हम उनकी पहचान नहीं कर सके हैं। बंगाल में भाजपा की जीत असंभव है।

रॉय जो काफी समय से लगातार भाजपा पर हमले कर रहे हैं, कथित तौर पर उनके अनुसार, भाजपा कार्यकर्ता अपने निजी फायदे में अधिक रुचि रखते हैं।

इससे पहले उन्होंने एक ट्वीट में कहा था, मैंने ये सब बातें किसी से प्रशंसा पाने के लिए नहीं लिखी हैं। कुछ शीर्ष नेता महिलाओं और धन में अधिक लिप्त थे, जिनके बारे में मैं पार्टी को सचेत करना चाहता था। एक पेड़ अपने फल से जाना जाता है। मैं निकाय चुनावों के नतीजों का इंतजार करूंगा। अभी के लिए, पश्चिम बंगाल भाजपा को अलविदा।

भाजपा के दिग्गज नेता ने इससे पहले कहा था, भाजपा के शुभचिंतक कहते हैं कि पैसे और महिलाओं के बारे में मेरी शिकायत पार्टी के भीतर की जानी चाहिए, सार्वजनिक रूप से नहीं। मैं विनम्रता से कहता हूं कि समय बीत चुका है। भाजपा जो चाहे कर सकती है। लेकिन अगर वे अपने व्यवहार में आमूलचूल सुधार नहीं करते हैं, तो पश्चिम बंगाल में पार्टी का विलुप्त होना अपरिहार्य है।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने रॉय के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, तथागत रॉय एक वरिष्ठ नेता हैं। वह सबसे अच्छी तरह जानते हैं कि वह क्या कह रहे हैं। हम सार्वजनिक मंच पर की गई टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया नहीं दे सकते। अगर उन्हें कुछ कहना है तो उन्हें यह भाजपा नेतृत्व के लिए कहना होगा।

–आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.