यह नाश्ता, एनर्जी देकर, दिल के राेगाें से करता है आपकी सुरक्षा

Advertisements

लाइव हिंदी खबर (हेल्थ कार्नर ) :- : हैल्दी ब्रेकफास्ट के ताैर पर सूजी का उपयाेग भारतीय रसाेर्इयाें में पुराने समय से ही हाेता चला आया है। इसके प्रयाेग से हलवा, इडली या उपमा जैसी स्वादिष्ट व पाैष्टिक चीजें बनार्इ जाती हैं। खाने में हल्की व सुपाच्य सूजी गेहूं से बनी होती है। कई जगहों पर इसे रवा के नाम से भी जाना जाता है। जानते हैं इसके सेहत से भरपूर फायदों के बारे में –

Do Not Miss Breakfast - भूलकर भी न मिस करें नाश्ता, सेहत पर पड़ेगा बुरा असर | Patrika News

ऊर्जा का स्रोत : सूजी से बना नाश्ता सुबह के समय करने से पूरे दिन शरीर में ऊर्जा बनी रहती है। नाश्ते में इसके साथ यदि सब्जियों का भी प्रयोग किया जाए तो यह अधिक पौष्टिक हो जाती है।

हृदय संबंधी रोगों में : सूजी दिल के लिए भी अच्छी है। हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम करने के साथ हार्टअटैक से भी बचाती है व रक्तसंचार को सही रखती है।

पाचनतंत्र दुरुस्त : सूजी में मौजूद फाइबर पाचनक्रिया को दुुरुस्त रखने में मददगार है। इसमें कैल्शियम, सेलेनियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम जैसे कई मिनरल्स होते हैं जो पाचनतंत्र को सही रखने के लिए जरूरी हैं।

इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक : सूजी में पाया जाने वाला सेलेनियम शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है। यह कई तरह के इंफेक्शन से बचाता है साथ ही प्रतिरोधक तंत्र को अनेक प्रकार की बीमारियों से लडऩे के लिए तैयार करता है।

Future Health tips.: सेहतमंद है ये नाश्ता, एनर्जी देकर, दिल के राेगाें से करता है सुरक्षा

एनीमिया में लाभकारी : सूजी में पर्याप्त मात्रा में आयरन होता है। इससे शरीर में खून की कमी नहीं होती व विभिन्न अंगों को भरपूर एनर्जी मिलती रहती है।

मजबूत नर्वस सिस्टम : सूजी में मौजूद फॉस्फोरस, जिंक, मैग्नीशियम नर्वस सिस्टम को सही रखने में मदद करते हैं। साथ ही प्रोटीन की भरपूर मात्रा त्वचा व मांसपेशियों के लिए लाभकारी है।

डाइट रहेगी नियंत्रित : सूजी की थोड़ी सी मात्रा खाने से ही पेट भर जाता है व जल्दी भूख नहीं लगती। ऐसे में ओवरईटिंग से बचा जा सकता है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.