जानिए आखिर किस देश ने ऑनलाइन बेचना शुरू कर दिया कोरोना मरीजों का खून

20

कोरोना वायरस जो पूरी विश्व में एक महामारी की तरह फैल गई है जिसके कारण अभी तक लाखों लोगों की जान गई है और अभी भी लाखों लोग से जूझ रहे हैं डॉक्टर और वैज्ञानिक वायरस का हर संभव प्रयास कर रहे हैं लेकिन अभी तक किसी के हाथ कुछ नहीं लग पाया है इसके अलावा लोग इस पर तरह-तरह के प्रयोग करते रहते हैं उसी में एक काम है जिसका नाम है प्लाज्मा थेरेपी जिसके कारण बहुत सारे मरीजों की जान बच पाई है कोरोना से ठीक हुए मरीजों का खून इस वायरस को हारने में काफी कारगर साबित होता है। अभी एक इस वायरस को मात देने वालों की संख्या 13 लाख 66 हजार पार कर चुकी है। हाल ही में एक खबर सामने आई, जिसमें ये दावा किया गया कि कोरोना से ठीक हुए कुछ मरीज ऑनलाइन अपना खून बेच रहे हैं। कुछ ऑनलाइन पोर्टल्स पर इन मरीजों का खून 10 लाख रुपये तक में बेचा जा रहा है।

इंटरनेट पर कोरोना से ठीक हुए मरीजों का खून बेचा जा रहा है। जी हां, ये कोई मजाक नहीं है। ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट में इसका खुलासा किया गया। इंटरनेट की दुनिया में डार्कनेट पर इसकी बिक्री की जा रही है। इसपर कई सेलर्स कोरोना से ठीक हुए मरीजों का खून प्रति लीटर बेच रहे हैं। इस साइट से खून की डिलीवरी दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में की जा रही है। विदेशी न्यूज साइट, डेली मेल की खबर के मुताबिक, ऐसा दावा किया जा रहा है कि कोरोना से ठीक हुए मरीजों के खून से अन्य मरीजों का इलाज किया जा सकता है।

कहा जा रहा है कि इस खून से लोगों की बॉडी को जिंदगी भर के लिए इम्यून किया जा सकता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि कोरोना मरीजों का खून इंटरनेट पर कितना महंगा बिक रहा है? लोगों के खून को कोरोना इम्यून करने के दावे के साथ कोरोना से ठीक हुए लोगों को खून 1 लीटर प्रति 10 लाख रुपये बिक रहा है। जी हां, 1 लीटर खून की कीमत 10 लाख रुपए। इस खून को अवैध तरीके से बेचा जा रहा है। इंटरनेट पर ना सिर्फ खून. बल्कि मास्क, पीपीई किट और कोरोना से बचाव के लिए इस्तेमाल होने वाले सारे सामान ऊंचे दाम पर बेचे जा रहे हैं।