|

उपराष्ट्रपति पद के लिए मतदान जारी, मोदी, शाह, राजनाथ, मनमोहन सिंह ने डाला वोट

Advertisements


नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। देश के नए उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए संसद भवन परिसर में मतदान जारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई केंद्रीय मंत्री और सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के सांसद अपना-अपना वोट डाल चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार सुबह 10 बजे सबसे पहले संसद पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं अस्वस्थ होने के कारण पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने व्हीलचेयर पर आकर अपना वोट दिया। राज्य सभा के उपसभापति हरिवंश, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी और शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान सहित लोक सभा और राज्य सभा के कई सदस्यों ने अपना-अपना वोट डाला।

आपको बता दें कि, उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए सुबह 10 बजे से वोटिंग शुरू हो चुकी है और शाम 5 बजे तक इसके लिए वोट डाला जाना है। वोटिंग प्रक्रिया संपन्न होने के बाद शनिवार शाम ही मतगणना भी की जाएगी। शाम 7 बजे तक चुनावी रिजल्ट भी आ जाने की संभावना है।

देश के अगले उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मुख्य मुकाबला एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनकड़ और विपक्षी दलों की संयुक्त उम्मीदवार मार्गेट अल्वा के बीच हो रहा है।

उपराष्ट्रपति के चुनाव में संसद के दोनों सदनों- लोक सभा और राज्य सभा के सांसदों को वोट डालने का अधिकार रहता है। इस लिहाज से देखा जाए तो उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए संसद के दोनों सदनों के कुल मिलाकर 788 सांसद वोट डाल सकते हैं।

आंकड़ो के लिहाज से देखा जाए तो एनडीए उम्मीदवार जगदीप धनकड़ का चुनाव जीतना तय माना जा रहा है लेकिन राष्ट्रपति चुनाव की तर्ज पर ही भाजपा ज्यादा से ज्यादा सांसदों के वोट हासिल कर अपने उम्मीदवार को बड़े अंतर से जीत दिलाने की रणनीति पर काम कर रही है।

विपक्ष की एक बड़ी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति चुनाव से अलग रहने का फैसला किया है तो वहीं दूसरी तरफ बीजू जनता दल और वाईएसआर के साथ ही बहुजन समाज पार्टी ने भी एनडीए उम्मीदवार का समर्थन करने की घोषणा कर धनकड़ की एक बड़ी जीत को सुनिश्चित कर दिया है।

–आईएएनएस

एसटीपी/एसकेपी


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.