|

2014 से अबतक आईआईटी गुवाहाटी ने क्यूएस रैंकिंग में किया बढ़ा सुधार, हासिल हुआ 384वां रैंक

Advertisements


नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस)। आईआईटी गुवाहाटी ने अपनी अंतर्राष्ट्रीय रैंकिंग में सुधार जारी रखा है। क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023 में 11 स्थान चढ़कर संस्थान ने देशभर में 37वां और विश्व रैंक में 384वां रैंक प्राप्त किया है। 2014 के बाद से आईआईटी गुवाहाटी क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में कम से कम 217 स्थान ऊपर आ गया है जो स्वयं में एक बड़ी उपलब्धि है।

आईआईटी गुवाहाटी 2014 में क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में 601-650 की रेंज में था। तब से 2023 तक आईआईटी गुवाहाटी 217 स्थान ऊपर बढ़कर 384वें स्थान पर पहुंच गया है। 2023 के क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग संस्करण में यह संस्थान ने दुनियाभर के शीर्ष 27 प्रतिशत संस्थानों में शामिल किया गया है।

इस प्रदर्शन के बारे में बोलते हुए आईआईटी गुवाहाटी के निदेशक, प्रोफसर टी.जी. सीताराम कहते हैं, आईआईटी गुवाहाटी के लिए क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में उच्च रैंकिंग हमारे उत्कृष्ट संकाय और छात्रों और उच्च गुणवत्ता वाले अनुसंधान के साथ-साथ अन्य मापदंडों में योगदान करने के उनके प्रयासों पर बहुत गर्व कराती है। उनकी उपलब्धियां वैश्विक रैंकिंग में हमारी निरंतर सफलता के लिए महत्वपूर्ण हैं। हम हाई-एंड रिसर्च पर ध्यान देना जारी रखेंगे और वैश्विक रैंकिंग में ऊपर जाने के लिए लगातार कदम उठाएंगे।

क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग तय करने के लिए, शैक्षणिक प्रतिष्ठा, नियोक्ता प्रतिष्ठा, संकाय छात्र अनुपात, प्रति संकाय उद्धरण, अंतर्राष्ट्रीय संकाय अनुपात, अंतर्राष्ट्रीय छात्र अनुपात, रोजगार परिणाम, अंतर्राष्ट्रीय अनुसंधान नेटवर्क मापदंडों को ध्यान में रखा गया है।

2023 के लिए अपनी कार्यप्रणाली में इसने 2462 संस्थानों का विश्लेषण किया है और 1422 संस्थानों को स्थान दिया है। इसने भारत में 41 संस्थानों को स्थान दिया है।आईआईटी गुवाहाटी का कहना है कि वह भारत का ऐसा शैक्षणिक संस्थान बन गया, जिसने टाइम्स हायर एजुकेशन द्वारा रैंक किए गए 50 वर्ष से कम आयु के शीर्ष 100 विश्व विश्वविद्यालयों में स्थान प्राप्त किया। संस्थान ने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय रैंकिंग में अपनी श्रेष्ठ स्थिति बनाए रखना जारी रखा है। इसने भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क द्वारा घोषित इंडिया रैंकिंग 2021 में देश के सर्वश्रेष्ठ इंजीनियरिंग संस्थानों में 7 वां स्थान बरकरार रखा है।

गुरुवार को जारी क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023 संस्करण में,भारतीय विज्ञान संस्थान बेंगलुरु (आईआईएससी) भारत का नंबर संस्थान बना है। उसने विश्व स्तर पर 155वीं रैंक हासिल की है। भारतीय विज्ञान संस्थान पिछले वर्ष 186वें नंबर पर था इस बार 31 स्थान ऊपर चढ़कर 155 रैंक हासिल की है। वहीं आईआईटी बॉम्बे 172वें और आईआईटी दिल्ली ने भी 174 की बेहतर रैंक के साथ विश्व स्तर पर 1422 संस्थानों में से शीर्ष 200 विश्व संस्थानों में जगह बनाई।

क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023 के अनुसार टॉप 400 में जगह बनाने वाले भारतीय संस्थानों में आईआईटी मद्रास (250 रैंक), आईआईटी कानपुर (264), आईआईटी खड़गपुर (270), आईआईटी रुड़की (369), आईआईटी गुवाहाटी (384) और आईआईटी इंदौर 396 वीं रैंक पर आया है।

–आईएएनएस

जीसीबी/आरएचए


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.