यूपी में हाई स्कूल स्तर से नीचे के तीन छात्रों में से एक छात्र तंबाकू का सेवन करता है-सर्वे


लखनऊ, 1 दिसम्बर (आईएएनएस)। विश्व स्वास्थ्य संगठन के ग्लोबल यंग टोबैको सर्वे में पाया गया है कि उत्तर प्रदेश में हाई स्कूल स्तर से नीचे का हर तीन में से एक छात्र किसी न किसी रूप में तंबाकू का सेवन करता है।

सर्वेक्षण में पाया गया है कि एक सुरक्षित स्थान की तलाश में, 37.4 प्रतिशत छात्र अपने घर पर धूम्रपान करते हैं जबकि 19.8 प्रतिशत अपने दोस्त के घर धूम्रपान करते हैं।

निश्चित रूप से राज्य में लगभग 20 प्रतिशत किशोरों में मित्र का स्थान अधिक पसंदीदा धूम्रपान क्षेत्र है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि लगभग 13.5 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने कहा कि वे स्कूल में धूम्रपान करते हैं, सार्वजनिक स्थानों पर 10.8 प्रतिशत और सामाजिक कार्यक्रमों में 8.9 प्रतिशत जबकि 9.7 प्रतिशत छात्र रैंडम स्थानों पर धूम्रपान करते हैं।

छात्रों के बीच तंबाकू के सेवन पर ग्लोबल यूथ टोबैको सर्वे की रिपोर्ट से पता चलता है कि उत्तर प्रदेश में लगभग 23 प्रतिशत छात्र, जिनमें 22 प्रतिशत लड़के और 24 प्रति लड़कियां शामिल हैं, किसी न किसी रूप में तंबाकू का उपयोग करते हैं।

जीवाईटीएस 13 से 15 वर्ष आयु वर्ग के छात्रों का राष्ट्रीय स्तर पर एक क्रॉस-सेक्शनल प्रतिनिधि, स्कूल-आधारित सर्वेक्षण है। यह नामांकन आकार के समानुपाती संभाव्यता के साथ वैश्विक मानकीकृत कार्यप्रणाली का उपयोग करता है। सर्वेक्षण प्रश्नावली में तंबाकू का उपयोग, समाप्ति, सेकेंड हैंड धूम्रपान और तंबाकू के उपयोग के अन्य पहलुओं को शामिल किया गया है।

–आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.