12वीं बोर्ड के रिजल्ट हेतु सीबीएसई का पोर्टल

36

सीबीएसई के निदेशक (आईटी) डॉ. अंतरिक्ष जौहरी के अनुसार सभी अंकों का संग्रह करने के बाद, यह पोर्टल स्कूल के लिए संपूर्ण अंक सारणी प्रदर्शित करेगा। विषय-वार अंक स्कूलों द्वारा मॉडरेशन के लिए उपलब्ध होंगे। स्कूलों के लिए अंकों की यह गणना काफी बोझिल हो सकती थी। इस पोर्टल और बैकएंड सिस्टम ने स्कूलों के बहुत बड़े बोझ को कम किया है।

LK;

इस पोर्टल में स्कूल छात्रों के आंतरिक ग्रेड अपलोड कर सकेंगे। प्रक्टिकल्स, प्रोजेक्टस, आंतरिक मूल्यांकन अंक अपलोड करने की सुविधा होगी। साथ ही स्कूलों को बारहवीं कक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों का कक्षा 10 का रोल नंबर, बोर्ड और वर्ष की जानकारी भी डालनी होगी।

इस पोर्टल में स्कूलों के बीते वर्षों का प्रदर्शन, कक्षा 11की अंक डेटा प्रविष्टि, कक्षा 12 की अंक डेटा प्रविष्टि अपलोड करनी होगी। साथ ही जांच के लिए बारहवीं कक्षा की पूर्ण सारणी, थ्योरी मार्क्‍स आदि उपरोक्त गतिविधियों का एक क्रम भी तैयार किया गया है।

स्कूलों को लॉजिस्टिक सहायता प्रदान करने के लिए इस नवीनतम आईटी पहल का स्वागत किया गया है और देश भर के स्कूलों द्वारा व्यापक रूप से इसकी सराहना की गई।

सीबीएसई ने आधिकारिक रूप से एक नोटिस जारी करते हुए कहा कि दसवीं कक्षा के अंकों के आधार पर गणना के लिए एक प्रणाली भी विकसित की गई है। दसवीं कक्षा पास करने वाले छात्रों के मामले में सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालयों की मदद से परिणाम डेटा एकत्र करेगा।

सीबीएसई द्वारा सभी हितधारकों से व्यापक परामर्श के बाद एक नीति अपनाई गई है। इसके तहत अंतिम परिणाम की गणना करते समय, कक्षा 10 के 3 सबसे अच्छे थ्योरी विषयों के अंकों का औसत, कक्षा 11 की थ्योरी के 30 फीसदी का वेटेज व कक्षा 12वीं की थ्योरी का 40 फीसदी वेटेज लिया जाएगा। प्रैक्टिकल में दिए गए अंक जैसे हैं, वैसे ही लिए जाएंगे।

सीबीएसई के 10वीं बोर्ड का रिजल्ट 20 जुलाई और बारहवीं कक्षा के छात्रों का परिणाम 31 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा।

–आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम

विज्ञापन