म्यूजिक को लेकर पिता का मुझपर बहुत ज्यादा प्रभाव रहा है : नमित दास

23



मुंबई, 21 जून (आईएएनएस)। मशहूर गजल गायक चंदन दास के बेटे अभिनेता नमित दास खुद भी एक म्यूजीशियन हैं। उन्होंने मीरा नायर की फिल्म ए सूटेबल बॉय के लिए म्यूजिक कम्पोज किया है। उनका अपना एक बैंड भी है और वह दिन गए के शीर्षक के साथ एक ईपी भी रिलीज कर चुके हैं। सोमवार को वल्र्ड म्यूजिक डे के मौके पर नमित ने बताया कि किस तरह से अपने पिता की बदौलत उनमें संगीत के प्रति रूचि पैदा हुई है।

नमित ने आईएएनएस को बताया, गजल और संगीत के प्रति मेरे पिता के समर्पण ने एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जब आप यह देखते हुए बड़े होते हैं कि आपके माता-पिता किसी एक चीज के प्रति विशेष भाव या सम्मान रखते हैं, तो आपमें भी उस चीज के प्रति गंभीरता और सम्मान आ जाता है। बात जब म्यूजिक की आती है, तो उनका मेरी जिंदगी में काफी प्रभाव रहा है।

अभिनेता ने खुलासा किया कि संगीत के प्रति उनका झुकाव कम उम्र में ही शुरू हुआ था।

थिएटर की पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखने वाले नमित कहते हैं, मैं एक ऐसे घर में पला-बढ़ा हूं, जहां संगीत को महत्व और सम्मान दिया जाता रहा है। मेरे पिता अपनी जिंदगी संगीत के प्रति समर्पित कर चुके हैं और उन्हें देखकर कम उम्र से ही मैं इसमें रूचि लेने लगा था। कुछ समय बाद मुझे अपनी जमीन मिली और मैंने खुद म्यूजिक बनाने का काम शुरू कर दिया।

नमित बीते समय में म्यूजिक के कई प्रोजेक्ट्स पर मल्टी-इंस्ट्रूमेंटलिस्ट अनुराग शंकर के साथ काम कर चुके हैं।

भारत में इंडिपेंडेंट म्यूजिक की अभी जगह कहां है? इस पर टिप्पणी करते हुए नमित कहते हैं, मुझे लगता है कि इंडिपेंडेंट म्यूजिक का अपना एक अलग ऑडिएंस है। हर पीढ़ी के साथ इनमें लोगों की रूचि बढ़ी है और कम भी हुई है। जहां तक रही मेरी बात तो मैं यही कहूंगा कि लॉकडाउन ने इन्हें विकसित होने का मौका दिया है। उम्मीद करता है कि ऐसा आगे भी जारी रहेगा।

–आईएएनएस

एएसएन/आरजेएस