आईडीएफसी बैंक का शुद्ध लाभ 79 फीसदी पहुंचा

29



मुंबई, 9 मई (आईएएनएस) आईडीएफसी फस्र्ट बैंक ने रविवार को मार्च में समाप्त तिमाही में अपने शुद्ध लाभ में 78.6 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 127.81 करोड़ रुपये की वृद्धि दर्ज की।

वित्त वर्ष 2016 की इसी अवधि के दौरान बैंक ने 71.54 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया था।

वित्त वर्ष 2015 की चौथी तिमाही के दौरान बैंक की कुल आय 4,576.12 करोड़ रुपये के मुकाबले 4,834 करोड़ रुपये रही।

समीक्षाधीन अवधि में सकल अग्रिम का प्रतिशत के रूप में आईडीएफसी फस्र्ट बैंक की सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्ति 4.15 प्रतिशत थी, जो पिछले वित्त वर्ष की जनवरी -मार्च तिमाही में 2.60 प्रतिशत थी।

वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही का प्रावधान 603 करोड़ रुपये था, जबकि वित्त वर्ष 2020 की चौथी तिमाही के लिए 679 करोड़ रुपये और वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही की तुलना में 595 करोड़ रुपये रहा।

आईडीएफसी फस्र्ट बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ वी. वैद्यनाथन ने कहा, 6 अप्रैल, 2021 को क्यूआईपी के माध्यम से जुटाई गई 3,000 करोड़ रुपये की इक्विटी पूंजी को शामिल करते हुए, हमारी समग्र पूंजी पर्याप्तता 16.32 प्रतिशत पर मजबूत है। हम उच्च स्तर की तरलता बनाए रखते हैं।

हम इसलिए ताकत और आत्मविश्वास के साथ अगले वित्त वर्ष 22 का रुख करते हैं। हमारे मजबूत ब्रांड, हमारे उत्कृष्ट सेवा स्तरों और मजबूत उत्पाद प्रस्ताव के आधार पर खुदरा ग्राहकों की मजबूत आमद से बैंक में अधिशेष तरलता हासिल हुई है।

–आईएएनएस

आरजेएस