रोड सेफ्टी वल्र्ड सीरीज : पांच मैचों में चौथी जीत के साथ सेमीफाइनल में पहुंचे इंडिया लेजेंड्स (लीड-1)

30



रायपुर, 13 मार्च (आईएएनएस) । पांच मैचों में चौथी जीत के इंडिया लेजेंड्स टीम रोड सेफ्टी वलर्ड सीरीज के सेमीफाइनल में पहुंच गई है। सचिन तेंदुलकर की कप्तानी वाली इस टीम ने शनिवार को दक्षिण अफ्रीका को 57 रनों से हराया।

इस जीत के साथ इंडिया लेजेंड्स के 16 अंक हों गए हैं। उसके खाते में चार जीत और एक हार है, जो उसे उसे कुछ दिन पहले ही इंग्लैंड के खिलाफ मिली थी। श्रीलंका लेजेंड्स के भी पांच मैचों से 16 अंक हैं और वर भी सेमीफाइनल में पहुंच गई है लेकिन नेट रन रेट के कारण वह टेबल में इंडिया लेजेंड्स के नीचे है।

LK;

बाकी के दो स्थानों के लिए द. अफ्रीका लेजेंड्स (5 मैच, 12 अंक) और इंग्लैंड लेजेंड्स (3 मैच, 8 अंक) तथा वेस्टइंडीज लेजेंड्स (5 मैच, 8 अंक) के बीच टक्कर है।

बहरहाल, 205 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी द. अफ्रीकी टीम ने अच्छी शुरूआत की लेकिन बाद में दबाव में आकर लक्ष्य से झ्ररन दूर रह गई। उसके ओपनरों एंड्रयू पुटिक (41 रन, 35 गेंद, 6 चौके) और मोर्ने वान विक ( 35 रन, 4 चौके, 2 छक्के) ने पहले विकेट के लिए 87 रनो की साझेदारी की। पुटिक को यूसुफ पठान ने बोल्ड किया।

आक्सिंग रन रेट का दबाव बढ़ता जा रहा और इसी दबाव से टीम को निकालने के प्रयास में विक 96 के कुल योग पर प्रज्ञान ओझा की गेंद पर सचिन को कैच दे बैठे। 12वें ओवर की समाप्ति तक द. अफ्रीका को 48 गेंदो पर 109 रन बनाने थे।

इसी दबाव के कारण द. अफ्रीका ने लगातार अंतराल पर तीन और विकेट गंवा दिए। आउट होने वालों में अल्वारो पीटरसन (7), जांदेर दे ब्रूयन (10) और लूट्स बोसमैन (0) शामिल हैं। अंतिम 18 गेंदों पर उसे 75 रनों की जरूरत थी लेकिन मेहमान टीम 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 148 रनो पर ही सीमित रह गई। कप्तान जोंटी रोड्स 22 रनों पर नाबाद लौटे।

इंडिया लेजेंड्स की ओर से यूसुफ ने तीन विकेट लिए जबकि युवराज को दो सफलता मिली।

इससे पहले, इंडिया लेजेंड्स ने कप्तान सचिन और युवराज के शानदार तूफानी अर्धशतकों की बदौलत दक्षिण अफ्रीका लेजेंड्स को 205 रनों का टारगेट दिया। इंडिया लेजेंड्स ने टास हारने के बाद पहले बल्लेबाजी की और निर्धारित 20 ओवरों मे तीन विकेट पर 204 रन बनाए।

इसमें सचिन के 60, युवराज के नाबाद 52 रनों के अलावा सुब्रमण्यम बद्रीनाथ के 42 रन शामिल हैं। यूसुफ पठान ने 23 रन बनाए जबकि मनप्रीत गोनी 16 रनों पर नाबाद लौटे।

वीरेंद्र सहवाग (6) के साथ पारी की शुरूआत करने आए सचिन ने अपने पुराने अंदाज में कई आकर्षक शाट्स लगाकर करीब 30 हजार दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। उनके हर चौके और छक्के पर दर्शकों ने जमकर शोर मचाया और ह्य सचिन-सचिन के नारे लगाए।

सहवाग हालांकि 16 रन के कुल योग पर आउट हो गए लेकिन सचिन ने बद्रीनाथ के साथ बल्लेबाजी का बेहतरान मुजायरा पेश करना जारी रखा। अपनी पारी में नौ चौके और एक छक्का लगाने वाले सचिन 111 रन के कुल योग पर मोंडे जोदेंकी की गेंद पर कैच आउट हुए।

इसी बीच बद्रीनाथ को राइट हैमस्ट्रींग इंजुरी हुई और वह 42 के निजी योग पर मैदान से बाहर जाने को मजबूर हुए। बद्रीनाथ ने मैदान छोड़ने से पहले 34 गेंदों का सामना कर चार चौके और दो छक्के लगाए।

बद्री के जाने के बाद युवराज और यूसुफ ने तीसरे विकेट के लिए 40 रनों की साझेदारी की। यूसुफ 141 के कुल योग पर आउट हुए। यूसुफ ने 10 गेंदों पर दो चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 23 रन बनाए।

अब युवराज का साथ देने गोनी आए। युवराज ने अब तक अपना असल रंग नहीं दिखाया था लेकिन जांदेर दे ब्रूएन द्वारा फेंके जा रहे 18वें ओवर में लगातार चार छक्के लगाते हुए अपनी उस पारी की याद दिला दी, जिसमें उन्होंने इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्राड के एक ही ओवर में छह छक्के लगाए थे। युवराज ने अपनी 22 गेंदों की पारी में दो चौके और छह छक्के लगाए।

–आईएएनएस

जेएनएस

विज्ञापन