स्वदेशी, स्वावलंबन और स्वच्छता का भाव लाना शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि : मुख्यमंत्री

7


गोरखपुर, 4 फरवरी (आईएएनएस)। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चौरी-चौरा शताब्दी समारोह देश को स्वतंत्र कराने वाले हुतात्माओं व बलिदानियों के प्रति श्रद्धा व सम्मान व्यक्त करने का समारोह है। देश के अंदर स्वदेशी, स्वावलंबन और स्वच्छता का भाव लाना बलिदानियों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

मुख्यमंत्री गुरुवार को चौरी-चौरा स्मारक स्थल पर चौरी-चौरा शताब्दी समारोह के शुभारंभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करते हुए उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि, 4 फरवरी 1922 को चौरी -चौरा के जनाक्रोश ने स्वाधीनता आंदोलन को नई दिशा दी थी। चौरीचौरा से देश को आजाद कराने का अमूल्य संघर्ष प्रारंभ हुआ था। पुलिस की गोली से तीन सेनानी शहीद हो गए थे। ब्रिटिश हुकूमत ने 228 पर मुकदमा चलाया था। 19 को मृत्युदंड, 14 को आजीवन कारावास और अन्य को 8, 5 वर्ष के कारागार की सजा हुई थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, प्रधानमंत्री की प्रेरणा व मार्गदर्शन से समारोह हो रहा है। 1857 से लेकर 1947 तक स्वाधीनता संग्राम से जुड़े सभी स्मारकों, सीमा पर देश के लिए प्राण न्योछावर करने वाले जवानों के स्मारकों पर आज प्रदेशभर में शहीदों के प्रति श्रद्धा निवेदित करने के कार्यक्रमों की श्रृंखला शुरू हुई है। सभी स्मारकों पर पुलिस बैंड से राष्ट्र भक्ति के गीतों की प्रस्तुति, काव्य गोष्ठी व दीपोत्सव के कार्यक्रम होंगे। विद्यालयों में प्रतियोगिताओं का आयोजन करने और 1857 से लेकर 1947 तक के स्वाधीनता इतिहास साहित्य से जुड़ी प्रदर्शनी के साथ ही विशिष्ट शोध को बढ़ावा देने का कार्य किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि स्वदेशी और स्वावलंबन के साथ ही हमें स्वच्छता पर भी ध्यान देना है। सबने देखा है कि प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के चलते हम इंसेफेलाइटिस को नियंत्रित करने में सफल हुए हैं। यह सफलता की नई मिसाल है।

योगी ने कहा कि आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन व उनकी प्रेरणा से तेजी से आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह कहते हुए शहीदों को नमन किया, तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहे ना रहें। उन्होंने लोंगो से स्वरक्तम स्वराष्ट्रे रक्षतं का भाव जगाने की अपील की। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल राजभवन लखनऊ से ऑनलाइन जुड़ीं।

चौरीचौरा जनाक्रोश के शताब्दी समारोह के अंतर्गत 4 फरवरी 2022 तक पूरे प्रदेश में कार्यक्रम होंगे। गुरुवार को शुभारंभ अवसर पर मुख्य समारोह स्थल पर चौरीचौरा जनाक्रोश के शहीदों के परिजनों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम स्थल पर दिव्यांगजन को मोटर चालित ट्राई साइकिल भी वितरित किया।

समारोह स्थल पर पहुंचते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चौरी-चौरा शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों के प्रति श्रद्धा निवेदित की। मुख्यमंत्री ने पूरे स्मारक परिसर का भ्रमण कर वहां हुए कार्यों का जायजा भी लिया। योगी स्मारक के संग्रहालय में भी गए और वहां शहीदों की सभी प्रतिमाओं पर माल्यार्पण कर उनको नमन किया। मुख्य समारोह मंच पर आने से पूर्व मुख्यमंत्री स्मारक स्थल पर वंदेमातरम के गायन में भी शामिल हुए।

–आईएएनएस

विकेटी/एएनएम


यह आर्टिकल LHK MEDIA (LIVEHINDIKHABAR.COM) के के द्वारा पब्लिश किया गया