निजीकरण के अगले चरण में ऑफर किए जाएंगे 6-10 हवाई अड्डे

4


नई दिल्ली, 4 फरवरी (आईएएनएस)। हवाई अड्डे के निजीकरण के अगले चरण में केंद्र की ओर से 6-10 हवाई अड्डों को ऑफर करने की उम्मीद है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

वित्त वर्ष 2022 से शुरू होने वाली इस प्रक्रिया में 6-10 हवाई अड्डे होंगे।

वर्तमान में, केंद्र इन हवाई अड्डों की पहचान करने की प्रक्रिया में है, जिसे इन परिसंपत्तियों के संचालन, प्रबंधन और विकास के लिए 50 वर्ष की लीज अवधि के लिए निजी क्षेत्र को प्रतिस्पर्धी बोली के माध्यम से ऑफर किया जाएगा।

विमानन क्षेत्र के लिए बजट 2021-22 के प्रस्ताव के बारे में जानकारी देते हुए, नागरिक उड्डयन सचिव प्रदीप खारोला ने कहा कि बोली लगाने के लिए लाभकारी और गैर-लाभकारी दोनों हवाई अड्डों को क्लब किया जाएगा।

सोमवार को, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पट्टे के आधार पर हवाई अड्डे के निजीकरण के अगले दौर को जारी रखने का प्रस्ताव दिया।

अब तक, छह हवाई अड्डों, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, गुवाहाटी, तिरुवनंतपुरम और मंगलुरु प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया के माध्यम से निजीकरण किया गया है।

–आईएएनएस

आरएचए/एएनएम


यह आर्टिकल LHK MEDIA (LIVEHINDIKHABAR.COM) के के द्वारा पब्लिश किया गया