एलआईसी धारकों के लिए आईपीओ में 10% कोटा

1


लाइव हिंदी खबर :- एलआईसी पॉलिसीधारकों के लिए जल्द ही अच्छे दिन आएंगे। क्योंकि LIC जल्द ही कोई नया प्लान लॉन्च करने के लिए IPO लेकर आ रही है। पॉलिसीधारक एलआईसी में आरक्षण कोटा निर्धारित कर सकते हैं। बजट भाषण के दौरान केंद्रीय वित्त मंत्री ने घोषणा की कि सरकार जल्द ही जीवन बीमा निगम के लिए एक आईपीओ शुरू करेगी।

एलआईसी धारकों के लिए आईपीओ में 10% कोटा

आईपीओ की अवधारणा की घोषणा पिछले साल मोदी सरकार ने की थी। लेकिन कोरोना के कारण इसे पूरा नहीं किया जा सका। इसलिए, सरकार इस वित्तीय वर्ष में इस योजना को लागू करने पर ध्यान केंद्रित करेगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस आईपीओ में LIC धारकों के लिए 10% कोटा होगा। वित्त मंत्रालय के डीआईपीएएम के सचिव तुहिन कांत पांडे के अनुसार, जिस तरह से राज्य के स्वामित्व वाली कंपनियों में आईपीओ के लिए 10 प्रतिशत आरक्षित है, उसी तरह एलआईसी धारकों को भी आईपीओ में आरक्षण मिलेगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में इस साल के साथ-साथ पिछले साल के एलआईसी के आईपीओ का भी उल्लेख किया। इसका मतलब है कि सरकार शेयर बाजार में LIC को सूचीबद्ध करेगी। यह आईपीओ के माध्यम से आम जनता को एलआईसी की वित्तीय स्थिति से अवगत कराएगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले साल के बजट भाषण में कहा था कि सरकार के पास एलआईसी का पूर्ण स्वामित्व होगा। लिस्टिंग के बाद, कंपनी की वित्तीय स्थिति आईपीओ के माध्यम से जानी जाएगी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले साल की तरह इस साल के बजट भाषण में एलआईसी के आईपीओ का उल्लेख किया है। LIC शेयर बाजार में पंजीकरण करेगा। IPO के माध्यम से कंपनी के वित्तीय मूल्य का पता लगाया जा सकता है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले साल के बजट भाषण में कहा था कि एलआईसी सरकार के पूर्ण स्वामित्व में रहेगी। कंपनी की वित्तीय स्थिति का निर्धारण करने के लिए आईपीओ द्वारा सूची का पालन किया जाएगा। इसलिए निवेशक एलआईसी के शेयर खरीदेंगे।


यह आर्टिकल LHK MEDIA (LIVEHINDIKHABAR.COM) के के द्वारा पब्लिश किया गया