TOP NEWS : आईएसएल-7 : नॉर्थईस्ट की नजरें टॉप-4 में पहुंचने पर (लीड-1, प्रीव्यू)

2


वॉस्को (गोवा), 3 फरवरी (आईएएनएस)। हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी के लिए एक समय सभी उम्मीदें खत्म हो रही थी। लेकिन खालिद जमील के अंतरिम कोच नियुक्त होने के बाद से टीम ने खुली हवा में सांस लेनी शुरू कर दी है।

मुख्य कोच गेरार्ड नुस के जाने के बाद हाइलैंडर्स के नाम से मशहूर नॉर्थईस्ट तालिका में खराब स्थिति में थी और प्लेआफ में पहुंचने की उसकी उम्मीदों पर संकट के बादल मंडरा रहे थे। लेकिन जमील के मार्गदर्शन में विजयी हैट्रिक लगा चुकी नॉर्थईस्ट फिर से टॉप-4 में पहुंचने की रेस में लौट आया है।

अपने पिछले मैच में टेबल टॉपर मुंबई सिटी को हरा चुकी नॉर्थईस्ट युनाइटेड को अब गुरुवार को वॉस्को के तिलक मैदान स्टेडियम में एफसी गोवा से भिड़ना है।

दोनों टीमों के 14-14 मैचों के बाद 21-21 अंक है। पांचवें स्थान पर काबिज हाइलैंडर्स अपने प्रतिद्वंद्वी गोवा से एक पायदान नीचे है। ऐसे में जबकि नॉर्थईस्ट पिछले चार मैचों से अजेय है तो वहीं गोवा पिछले सात मैचों से एक भी मैच नहीं हारी है। ऐसे में यह काफी दिलचस्प मुकाबला होगा।

नॉर्थईस्ट युनाइटेड के सहायक कोच एलिसन ने कहा, हमने उनका विश्लेषण किया है। हमें मैच को अच्छे से लेना होगा और जीत के लिए बेस्ट देना होगा।

जमील के मार्गदर्शन में विजयी हैट्रिक लगा चुकी नॉर्थईस्ट युनाइटेड आईएसएल के इतिहास में पहली बार लगातार तीन मैच जीतने में सफल रही है।

उन्होंने कहा, मैं इसका श्रेय कोच खालिद, तकनीकी निदेशक, कोचिंग स्टाफ और उन सभी खिलाड़ियों को देना चाहूंगा जिन्होंने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। हमने कुछ भी नहीं बदला है। हमने केवल अपनी अटैकिंग और डिफेंस को मजबूत किया है और यह एकमात्र चीज है। हम रचनात्मक फुटबॉल खेलने की कोशिश कर रहे हैं।

दोनों टीमें इस सीजन की शुरुआत में जब एक दूसरे से भिड़ी थी तो उन्हें 1-1 से ड्रॉ खेलना पड़ा था। लेकिन गोवा के कोच जुआन फेरांडो को एक कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद है।

फेरांडो ने कहा, वे (नॉर्थईस्ट) खिलाड़ी खुश हैं। वे हर खेल, हर मिनट का आनंद ले रहे हैं। उनके ड्रेसिंग रूम में माहौल अच्छा होगा। उन्होंने कठिन मैच जीते। खिलाड़ी पिच पर फ्री हैं। उन्होंने बहुत सारी सकारात्मकता हासिल की है।

गोवा को इस मैच में इदु बेदिया की सेवाएं नहीं मिल पाएंगी, जो निलंबित हैं जबकि ब्रैंडन फर्नांडीज चोटिल हैं।

फेरांडो ने स्वीकार किया कि उन्हें ऐसा लगता है कि प्लेआफ की रेस में बने रहने की उनकी उम्मीदों को थोड़ा झटका लगा है, लेकिन उन्हें लगता है कि यह उसके पक्ष में सकारात्मक रहा है।

उन्होंने कहा, मुझे हर समय दबाव महसूस होता है। यह भारतीय लीग के लिए अच्छा है, क्योंकि कमोबेश सभी टीमों के बीच अधिकतम 3-4 अंकों का अंतर है। यह हमारे लिए अच्छा है। हर मैच महत्वपूर्ण है और हमारी मानसिकता तीन अंक प्राप्त करने की है।

–आईएएनएस

ईजेडए/एसजीके


यह आर्टिकल LHK MEDIA (LIVEHINDIKHABAR.COM) के के द्वारा पब्लिश किया गया