कांग्रेस ने किया ऐलान घर लौट रहे प्रवासी मजदूरों के ट्रेन टिकट का सारा खर्च उठाएगी

15

लाइव हिंदी खबर (राजनीति) :-   कोरोना वायरस जो पूरी  विश्व में एक महामारी की तरह फैल गई है अभी तक इस वायरस के कारण लाखों लोगों की जान गई है और अभी भी लाखों लोग से जूझ रहे हैं  जिसके कारण पुरे विश्व में लॉक डाउन घोषित है वही दूसरी तरफ कोरोना वायरस की महामारी के बीच प्रवासी मजदूरों को उनके अपने राज्यों में पहुंचाने के लिए शुरू की गई स्पेशल ट्रेनों को लेकर विवाद शुरू हो गया है। दरअसल, रेलवे मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए उनसे ट्रेन का किराया वसूल रहा है। इस मामले को लेकर कांग्रेस ने जहां पहले केंद्र सरकार पर हमला बोला, वहीं अब पार्टी ने फैसला किया है कि मजूदरों के रेल टिकट का पैसा वो खुद देगी। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की तरफ से इसे लेकर सोमवार को एक बयान जारी किया गया।

सोनिया गांधी ने इस संबंध में बयान जारी करते हुए कहा, ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी की हर इकाई हर जरूरतमंद श्रमिक व कामगार के घर लौटने की रेल यात्रा का टिकट खर्च वहन करेगी व इस बारे जरूरी कदम उठाएगी। यह हमारे हमवतन लोगों की सेवा में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का विनम्र योगदान होगा और साथ ही हमें उनके साथ एकजुटता से कंधे से कंधा मिलाकर चलना भी होगा।’

वहीं, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने इस मामले पर ट्वीट करते हुए कहा, ‘ट्रेन से वापस घर ले जाए जा रहे गरीब, बेबस मजदूरों से भाजपा सरकार द्वारा पैसे लिए जाने की ख़बर बेहद शर्मनाक है। आज साफ हो गया है कि पूंजीपतियों का अरबों माफ करने वाली भाजपा अमीरों के साथ है और गरीबों के खिलाफ। विपत्ति के समय शोषण करना सूदखोरों का काम होता है, सरकार का नहीं।’

 

www.livehindikhabar.com