भारत में वापस आने के लिए विदेशों से इतने सारे लोगों ने कराया पंजीकरण

22

लाइव हिंदी खबर (विदेश) :-  कोरोना वायरस अभी के समय में ऐसी बीमारी है जो महामारी की तरह पूरे विश्व में फैल गई है जिसके कारण लाखों लोगों की जान गई है और अभी भी कई लाख लोग इसे संक्रमित पाए गए हैं इस बीमारी के चपेट से दुनिया के बड़े-बड़े देश जैसे भारत अमेरिका चाइना ईरान जैसे देश भी नहीं बच पाया इसी को लेकर सभी लोग अपने अपने घरों में बंद है और जो लोग अपने देश से दूर हैं वे सभी अपने देश में वापस आना चाहते हैं

 

भारत के लोग भी जो विदेशों में रहते हैं वह भी अब भारत वापस आना चाहते हैं इसी के कारण यूएई में 150000 से अधिक भारतीयों ने कोरोना महामारी के चलते वापस घर जाने के लिए पंजीकरण कराया है। दुबई में कंसुल जनरल ऑफ इंडिया विपुल ने मीडिया को बताया कि शनिवार शाम 6 बजे तक उनके पास 1,50,000 से अधिक पंजीकरण किए गए। इन लोगों में से चौथाई लोग अपना नौकरी जाने के कारण घर जाना चाहते हैं।

40 प्रतिशत आवेदक वर्कर हैं और 20 प्रतिशत प्रोफेशनल्स हैं और 10 प्रतिशत ऐसे लोग हैं जो विसिट/टूरिस्ट वीजा पर आए हैं और फ्लाइट रद्द और लॉकडाउन होने के कारण फंसे हुए हैं। बाकि बचे लोगों में छात्र, मेडिकल इमरजेंसी और गर्भवती महिलाएं शामिल हैं।

 

अबुधाबी में स्थित भारतीय दूतावास और दुबई स्थित इंडियन कंसुलेट ने बुधवार रात को पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू की थी। पंजीकरण कराने वाले लोगों में 50 प्रतिशत केरल के लोग हैं। यूएई में 3.4 मिलियन भारतीय लोगों में से 1 मिलियन से अधिक लोग केरल के हैं।

 

www.livehindikhabar.com