तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन हो सकते हैं मंदिर सलाहकार समिति के अध्यक्ष

20



चेन्नई, 23 जून (आईएएनएस)। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन के निकट भविष्य में गठित होने वाली राज्य स्तरीय मंदिर सलाहकार समिति की अध्यक्षता करने की संभावना है। हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती (एचआर एंड सीई) मंत्री पी.के. शेखर बाबू समिति के उपाध्यक्ष होंगे।

एचआर एंड सीई विभाग के सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि समिति का गठन हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती (एचआर एंड सीई) अधिनियम की धारा 7 के तहत किया जाएगा।

समिति में शामिल किए जाने वाले गैर-सरकारी सदस्यों की संख्या की अभी पुष्टि नहीं हुई है लेकिन अनुसूचित जाति का एक व्यक्ति सदस्य होगा। एचआर एंड सीई के आयुक्त पदेन सदस्य सचिव और प्रभारी सचिव होंगे।

राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने सोमवार को तमिलनाडु विधानसभा में अपने संबोधन में सभी प्रमुख हिंदू मंदिरों के लिए एक सलाहकार समिति के गठन का उल्लेख किया था।

एचआर एंड सीई विभाग के सूत्रों के अनुसार, 331 मंदिर हैं जिनकी वार्षिक आय 10 लाख रुपये या उससे अधिक है और 47 मंदिर हैं, जिनकी वार्षिक आय 50 लाख रुपये या उससे अधिक है।

यह ध्यान दिया जा सकता है कि इस तरह की एक सलाहकार समिति 2012 में स्थापित की गई थी और इसका कार्यकाल 2015 में समाप्त हो गया था, लेकिन एचआर एंड सीई के अधिकारियों ने आईएएनएस को बताया कि 2012 में गठित पूर्व सलाहकार समिति में शामिल होने के लिए कोई आय सीमा नहीं थी।

–आईएएनएस

आरएचए/एएनएम