ऑक्सीजन की व्यवस्था के साथ 2,500 अतिरिक्त बेड का इंतजाम कर रही सेल

25



नई दिल्ली, 1 मई (आईएएनएस)। देश की सबसे बड़ी इस्पात निर्माता स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) कोविड उपचार के लिए गैसियस ऑक्सीजन (जीओएक्स) के साथ लगभग 2,500 बिस्तरों की बड़ी चिकित्सा सुविधा स्थापित करने की योजना बना रही है।

यह सुविधा सेल के पांच एकीकृत स्टील प्लांटों – छत्तीसगढ़ के भिलाई, ओडिशा के राउरकेला, झारखंड के बोकारो और पश्चिम बंगाल के दुगार्पुर तथा बर्नपुर में उपलब्ध वर्तमान सुविधा के अतिरिक्त होगी।

कोविड-19 मरीजों के लिए तैयार की जा रही इन व्यापक सुविधाओं को सेल अस्पतालों की मौजूदा सुविधाओं के बाहर बनाने की योजना है। साथ ही इन नई सुविधाओं में ऑक्सीजन सपोर्ट के लिए स्टील प्लांट से ही सीधी एक समर्पित गैस पाइपलाइन आएगी। अभी तक सेल के अस्पतालों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन से गैसियस ऑक्सीजन निकाल कर मरीजों को दिया जाता है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि केंद्र सरकार के सुझाव पर सेल अब ऑक्सीजन के अतिरिक्त स्रोत के रूप में सीधे गैसियस ऑक्सीजन का इस्तेमाल करेगी, क्योंकि वर्तमान में तरल मेडिकल ऑक्सीजन की मांग बहुत अधिक है।

इन 2,500 बिस्तरों के अस्प्ताल को चरणबद्ध तरीके से संबंधित राज्य सरकारों के साथ मिलकर विकसित किया जाएगा। पहले चरण में कंपनी लगभग 700 बिस्तरों की सुविधा तैयार करेगी, जिनको सभी पांचो जगहों कुल 2,500 तक बढ़ाया जाएगा।

इस समय सेल के पांच अस्पतालों में लगभग 3,000 बिस्तर हैं। इनमें से करीब 45 प्रतिशत बेड कोविड रोगियों के लिए रखे गए हैं।

सेल के बयान में कहा गया है कि कंपनी कोरोना महामारी के खिलाफ हर संभव तरीके से लड़ने के लिए राष्ट्र के साथ खड़े होने के लिए प्रतिबद्ध है।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम